सुबह और शाम में चाय के साथ जब कुछ अलग खाने का मन करें तो आप घर पर इस तरीके से गेहूं के आटे से बनाएं एकदम खस्तेदार लच्छा मठरी। यह मठरी को आप बहुत ही कम समय में झटपट से बना सकते हैं और इसे आप एक बार बनाकर महीनों तक स्टोर करके चाय के साथ खा सकते हैं।

आवश्यक सामग्री (Ingredients) –

  • गेहूं का आटा – एक कप
  • कुटी हुई लाल मिर्च – आधी छोटी चम्मच
  • अजवाइन – आधी छोटी चम्मच
  • कसूरी मेथी – आधी छोटी चम्मच
  • नमक आधी – छोटी चम्मच
  • तेल – 2 छोटी चम्मच

गेहूं के आटे का मठरी बनाने की विधि (How to make wheat flour mathari recipe)

  • मठरी बनाने के लिए सबसे पहले एक बड़े बर्तन में गेहूं का आटा, कुटी हुई लाल मिर्च, अजवाइन, कसूरी मेथी, नमक और तेल को डालकर आटे में अच्छे से मिला लें।
  • इसके बाद आटे में थोड़ा-थोड़ा पानी डालकर नरम आटा गूंथे और फिर आटे 5 मिनट के लिए ढककर रख दें जिससे आटा फूल कर सैट हो जाए।
  • 5 मिनट के बाद आटे को फिर से थोड़ा मसलकर इसका लोई बना ले और लोई में सूखा आटा लपेटकर उसे बेलन से बेल लें।
  • मठरी के लिए 3 लोई को एक-एक करके रोटी के आकार में बेले और फिर तीनों रोटियों के ऊपर से तेल लगाकर उन्हें ऊपर से चिपका दें।
  • इसके बाद तीनों रोटियों को एक साथ घुमाते हुए इसका रोल बनाकर रोल को चाकू से छोटे-छोटे भाग(piece) में काट लें।
  • अब सभी रोल के भाग(pieces) को हल्के हाथ से दाबकर इन्हे बेलन से चकली के आकार(Size) में बेल लें।
  • इसके बाद मठरी को तेल में तलने के लिए कड़ाही में तेल डालकर हल्का गर्म करें।
  • अब कढ़ाई में मठरी को डालकर मध्यम आग पर दोनों तरफ से अच्छे से सुनहरे रंग में होने तक तलें।
  • मठरी को तेल में तलने के बाद जब यह ठंडे हो जाए तब इसे आप किसी जार में रखकर स्टोर करके महिनो तक चाय के साथ खा सकते हैं

सुझाव (Suggestion) –

  • ध्यान रहे मठरी को आप जब भी तेल में तलें तो उसे मध्यम आग पर या फिर हल्की धीमी आग पर ही तले इससे मठरी अंदर तक अच्छे से पक जाएंगे और वह ऊपर से एकदम खस्तेदार बनेंगे।
  • अगर मठरी को आप तैयार पटा लेंगे तेज आग पर तलेंगे तो मठरी अंदर से पकेंगे नहीं और वह अंदर से कच्चे रह जाएंगे।
  • मठरी को तेल में तलने के बाद उसे तुरंत जार में ना डालें मठरी को ठंडा होने के बाद ही जार में डालकर स्टोर करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here